Success Stories

S.N. Photo Name of Employee विषयगत क्षेत्र पता फोन/मोबाइल
1 श्री सन्तोष कुमार गाय पालन ग्राम- झम्मानिवादा, पोस्ट - षिवली,
जनपद-कानपुर देहात,
पिनकोड - 209204 (उत्तर प्रदेष)
+91-7054927421

कृषक परिचय

उम्र (वर्ष) : 60 वर्ष

शिक्षा (अधिकतम) : हाईस्कूल

जोत का रकबा (हे.) : 1.10 हे.

खेती का अनुभव (वर्ष) : 15 वर्ष

उगाई जाने वाली फसलें : गेंहू, आलू, मक्का इत्यादि

फसल पद्धति : उर्द / मूंग - मक्का - आलू

पशुधन : गाय-20

उपयोगी यन्त्र : ट्रैक्टर आदि

वार्षिक आय (रु. मे) : 500000.00(रू01लाख गाय पालन से)

पुरस्कार का विवरण / उपलब्धियाँ (जनपद/राज्य/राष्ट्र स्तर) :


अन्वेषण का वर्णन

प्रस्तावना : खेती के साथ कृषकों की अतिरिक्त आय का बहुत अच्छा माध्यम है। शहर के पास होने पर दुग्ध उत्पादन की महत्ता और बढ़ जाती है।

अन्वेषण की उत्पत्ति/शुरूआत :श्री सन्तोष कुमार ने गाय पालन वर्ष 10-11 में प्रारम्भ किया । श्री सन्तोष के0वी0के0, दलीप नगर वैज्ञानिकों द्वारा प्रषिक्षणों में दी गयी जानकरी व उनके सम्पर्क में आकर प्रभावित हुये व गौषाला प्रारम्भ की।

अन्वेषण की उपयोगिता : श्री सन्तोष को गौषाला से अतिरिक्त आय प्राप्त करने का माध्यम प्राप्त हुआ तथा गौषाला से प्राप्त गोबर से खाद बना कर जैविक खेती का कार्य प्रारम्भ किया है जोकि बहुत उपयोगी है।

सामाजिक एवं आर्थिक विश्लेषण : श्री कुमार अच्छी खेती के साथ ही गाय पालन करके अतिरिक्त लगभग रू. 100000.00 प्राप्त कर रहे है। जिससे उनकी सामाजिक व आर्थिक स्तर में बढ़ोत्तरी हुयी है।

अन्वेषण का प्रचार-प्रसार आंकणों सहित : कृषक गोष्ठियो, प्रषिक्षणों, किसान मेलों, समाचार पत्रों आदि के माध्यम से संकर गायों के पालन व रख-रखाव का प्रचार प्रसार किया जा रहा है।




S.N. Photo Name of Employee विषयगत क्षेत्र पता फोन/मोबाइल
2 श्री चरन सिंह संकर धान उत्पादन ग्राम- औरंगाबाद,
पोस्ट - भेवान
जनपद-कानपुर देहात,
पिनकोड - 209204 (उत्तर प्रदेष)
+91-9721363143

कृषक परिचय

उम्र (वर्ष) : 40 वर्ष

शिक्षा (अधिकतम) : स्नातक

जोत का रकबा (हे.) : 2.0 हे.

खेती का अनुभव (वर्ष) : 20 वर्ष

उगाई जाने वाली फसलें : धान, गेंहू, आलू, लाही, चना इत्यादि

फसल पद्धति : धान - गेंह, धान-लाही, धान-चना, धान-आलू

पशुधन : भैंस-2, बकरी-4, गाय-1

उपयोगी यन्त्र : ट्रैक्टर, रोटावेटर, कल्टीवेटर, ट्राली, ट्यूबवेल आदि

वार्षिक आय (रु. मे) : 300000.00

पुरस्कार का विवरण / उपलब्धियाँ (जनपद/राज्य/राष्ट्र स्तर) : धान उत्पादन पर के0 वी0 के0 द्वारा प्रमाण पत्र दिया गया


अन्वेषण का वर्णन

प्रस्तावना : श्री चरन सिंह के0वी0के0 से लगातार 10 वर्ष से जुड़े हुये है और उन्नत तकनीकी के साथ खेती कर संकर धान में अच्छा उत्पादन प्राप्त कर रहे है।

अन्वेषण की उत्पत्ति/शुरूआत : श्री चरन सिंह ने के0वी0के0, दलीप नगर के वैज्ञानिकों द्वारा प्रषिक्षणों में दी गयी जानकरी व उनके सम्पर्क में रह कर संकर धान में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की।

अन्वेषण की उपयोगिता : श्री चरन सिंह को पारम्परिक खेती के अतिरिक्त अधिक आय प्राप्त करने के उद्वेष्य से संकर धान के उत्पादन का कार्य प्रारम्भ किया।

सामाजिक एवं आर्थिक विश्लेषण : श्री चरन सिंह वर्तमान उन्नत तकनीकी से खेती करने से निरन्तर उनकी सामाजिक व आर्थिक स्तर में बढ़ोत्तरी हो रही है।

अन्वेषण का प्रचार-प्रसार आंकणों सहित : कृषक गोष्ठियो, प्रषिक्षणों, किसान मेलों, समाचार पत्रों आदि के माध्यम से संकर धान का प्रचार प्रसार किया जा रहा है।




S.N. Photo Name of Employee विषयगत क्षेत्र पता फोन/मोबाइल
3 श्री अजय कुमार सब्जी उत्पादन ग्राम- कुर्मीखेड़ा,
पोस्ट - चौबेपुर
जनपद-कानपुर नगर,
पिनकोड - 209203 (उत्तर प्रदेष)
+91- 98639682

कृषक परिचय

उम्र (वर्ष) : 45 वर्ष

शिक्षा (अधिकतम) : इण्टरमीडियेट

जोत का रकबा (हे.) : 1.5 हे.

खेती का अनुभव (वर्ष) : 25 वर्ष

उगाई जाने वाली फसलें : मक्का ,धान, आलू व सब्जी इत्यादि।

फसल पद्धति : मक्का-आलू- सब्जी

पशुधन : भैंस-2, गाय-1

उपयोगी यन्त्र : ट्रैक्टर , रोटावेटर, कल्टीवेटर, ट्राली, ट्यूबवेल आदि

वार्षिक आय (रु. मे) : 400000.00

पुरस्कार का विवरण / उपलब्धियाँ (जनपद/राज्य/राष्ट्र स्तर) :


अन्वेषण का वर्णन

प्रस्तावना : खेती के साथ अतिरिक्त आय व पारिवारिक जरूरतों को पूर्ण करने के लिये सब्जी उत्पादन बहुत अच्छा माध्यम है। सब्जी उत्पादन के माध्यम से वर्ष भर ताजी व गुणवत्तायुक्त सब्जियों की उपलब्धता के साथ अतिरिक्त आय प्राप्त करने का अच्छा साधन है।

अन्वेषण की उत्पत्ति/शुरूआत : श्री अजय कुमार ने वर्ष 2010 में के0वी0के0, दलीप नगर के वैज्ञानिकों के सम्पर्क में आये तथा श्री कुमार ने केन्द्र के उद्यान वैज्ञानिक से नई-2 कृषि तकनीकों की जानकरी प्राप्त की व प्रभावित हो कर सब्जी उत्पादन का कार्य प्रारम्भ किया।

अन्वेषण की उपयोगिता : इसके माध्यम ये वर्ष भर सब्जियो की उपब्धता के साथ कानपुर नगर के समीप होने व बाजार उपलब्ध होने के कारण नकद आय प्राप्त करने का अच्छा माध्यम प्राप्त हुआ।

सामाजिक एवं आर्थिक विश्लेषण : सब्जी उत्पादन से श्री अजय कुमार को वर्ष में रू0 3-4 लाख की अतिरिक्त आया प्राप्त हो जाती जिससे उनके सामाजिक व आर्थिक स्तर में बढ़ोत्तरी हुयी है।

अन्वेषण का प्रचार-प्रसार आंकणों सहित :कृषक गोष्ठियो, प्रषिक्षणों, किसान मेलों, समाचार पत्रों आदि के माध्यम से प्रचार प्रसार किया जा रहा है।